34.3 C
Dehradun
Sunday, November 1, 2020
Home जॉब्स & करियर वर्क फ्रॉम होम वाली नौकरियों में 300% तक बढ़ोतरी, इस साल कुल...

वर्क फ्रॉम होम वाली नौकरियों में 300% तक बढ़ोतरी, इस साल कुल नौकरियों में ऐसे जॉब्स चार गुना तक बढ़ गए

- Advertisement -

एक जॉब पोर्टल की रिपोर्ट में सामने आया है कि अब कंपनियां कर्मचारियों के घर से ही काम करने को तरजीह दे रही हैं। वर्कर्स भी यही चाहते हैं। (प्रतीकात्मक)

  • पांच महीने के दौरान नौकरी डॉट कॉम पोर्टल पर जॉब सर्च करने वालों ने जिन नौकरियों को सर्च किया, उनमें वर्क फ्रॉम होम वाला की-वर्ड टॉप पर
  • घर से काम करने वाले जॉब्स में करीब 50 फीसदी योगदान बिजनेस प्रोसेस आउट सोर्सिंग (बीपीओ)/आईटी इनेबल्ड सर्विसेज (आईटीईएस) सेक्टर का है
- Advertisement -

न्यू नॉर्मल के तहत कंपनियां अब कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम होम कराने को तरजीह दे रही हैं। यही वजह है कि वर्क फ्रॉम होम के लिए की जाने वाली हायरिंग पहले की तुलना में 300% तक बढ़ गई। यह जानकारी एक जॉब पोर्टल की रिपोर्ट में सामने आई।

कोरोना संकट के दौरान दुनिया में ‘हायरिंग और फायरिंग’ यानी लोगों को नौकरी पर रखने और उन्हें नौकरी से निकालने के चलन में बदलाव आया। रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल कुल नौकरियों में वर्क फ्रॉम होम वाले जॉब्स चार गुना तक बढ़ गए।

दूसरी तरफ, अप्रैल की शुरुआत से अधिकांश लोग वर्क फ्रॉम वाली नौकरी तलाशते देखे गए। पांच महीने में नौकरी डॉट कॉम पोर्टल पर जॉब सर्च करने वालों ने जो नौकरियां की सर्च कीं, उनमें वर्क फ्रॉम होम वाला की-वर्ड सबसे ऊपर रहा। कुछ दूसरी रिपोर्ट्स में भी यही पाया गया। इनके मुताबिक, वर्क फ्रॉम वाली जॉब के लिए एप्लीकेशन्स में सात गुना तक इजाफा हुआ ।

ऑफिस का चलन बना रहेगा

नौकरी डॉट कॉम के चीफ बिजनेस ऑफिसर (सीबीओ) पवन गोयल बताते हैं – पिछले कुछ वर्षों के दौरान वर्क फ्रॉम होम का चलन बढ़ा है। कोरोना के दौरान दुनिया में इसकी ग्रोथ कई गुना बढ़ी। हालांकि, ऑफिस का चलन बना रहेगा। लेकिन, दूर से काम करने (रिमोट वर्किंग) को लेकर बढ़ती स्वीकार्यता आने वाले समय में एक हाइब्रिड वर्किंग मॉडल का रास्ता मजबूत करेगी।

बड़ी तादाद में कंपनियां कर्मचारियों के ऑफिस के साथ घर से काम करने की इजाजत देंगी। गोयल के मुताबिक, पारंपरिक ऑफिस आधारित या ऑन-ग्राउंड वाली नौकरियां मसलन सेल्स/बिजनेस डेवलपमेंट और कस्टमर केयर एजेंट्स को अब कंपनियों की ओर से वर्क फ्रॉम के विकल्प की भी पेशकश की जा रही है।

वर्क फ्रॉम होम में 50% योगदान बीपीओ/आईटीईएस सेक्टर का

घर से काम करने वाले जॉब्स में करीब 50 फीसदी योगदान बिजनेस प्रोसेस आउट सोर्सिंग (बीपीओ)/आईटी इनेबल्ड सर्विसेज (आईटीईएस) सेक्टर का है। इसके परिणास्वरूप उद्योग जगत में वर्क फ्रॉम होम वाली नौकरियों में जबर्दस्त ग्रोथ देखने को मिली है। वहीं, इसमें और 25 फीसदी का योगदान आईटी सॉफ्टवेयर, एजुकेशन/टीचिंग ओर इंटरनेट/ई-कॉमर्स कर रहे हैं। वर्क फ्रॉम होम जॉब्स के लिए पब्लिशिंग, बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज और इंश्योरेंस (बीएफएसआई) सेक्टर भी उभरकर सामने आए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Coronavirus: केदारनाथ विधायक मनोज रावत कोरोना पॉजिटिव, 23 अक्टूबर को कराई थी आरटीपीसीआर जांच

उत्तराखंड में मंत्रियों, विधायकों से लेकर बड़े अधिकारी तक कोरोना के खतरे से जूझ रहे हैं। हाल में केदारनाथ विधायक मनोज रावत भी कोरोना...

जानें किस दिन बंद होंगे कौनसे चार धाम के कपाट….

आज विजयदशमी के शुभ अवसर पर चारों धाम के कपाट शीतकाल हेतु बंद होने की तिथियां आज विधि-विधान एवं पंचाग गणना के पश्चात निम्नवत...

वीकेंड से पहले ही शुक्रवार को दिनभर पर्यटकों ने नैनी झील में नौका विहार का लिया आनंद

नैनीताल नगर में वीकेंड से पहले ही पर्यटकों की शुक्रवार को दिनभर चहल-पहल रही। इसी तहर शनिवार को भी यहां पर्यटकों की चहल-पहल बरक़रार...

आज अष्टमी व नवमी के अवसर पर मंदिरों और घरों में किया जा रहा कन्या पूजन

शारदीय नवरात्र की अष्टमी व नवमी आज बड़े धूम धाम से मनाई जा रही है। इस दौरान सुबह से ही घरों और मंदिरों में...

Recent Comments