34.3 C
Dehradun
Saturday, October 31, 2020
Home उत्तराखंड उत्तराखंड: हत्या के आरोपियों का नाम लेती रही पत्नी, पुलिस ने अज्ञात...

उत्तराखंड: हत्या के आरोपियों का नाम लेती रही पत्नी, पुलिस ने अज्ञात पर दर्ज किया केस

- Advertisement -
- Advertisement -

अल्मोड़ा में हाल ही में बीते सोमवार को एक हत्याकांड का बड़ा मामला सामने आया है। अल्मोड़ा के भैंसियाछाना ब्लॉक के निवासी राजेंद्र सम्याल की हत्याकांड के तकरीबन 48 घंटे के बाद राजस्व पुलिस ने उसकी हत्या का मुकदमा तो दर्ज कर दिया है मगर मामले को पूरी तरीके से दबाने की पूरी कोशिश की गई है। जागरण की खबर के मुताबिक मृतक की पत्नी के द्वारा पति के हत्यारों के खिलाफ बकायदा नामजद तहरीर दी गई थी जिसके बावजूद भी पुलिस की ओर से अज्ञात में मामला दर्ज हुआ है। आरोपियों के नाम लेने के बावजूद भी पुलिस ने अज्ञात में मामला क्यों दर्ज किया यह तो किसी को नहीं पता।

चलिए आपको राजेंद्र सम्याल की हत्याकांड के पूरे मामले से अवगत कराते हैं। घटना बीते सोमवार की है। बीते सोमवार को भैंसियाछाना ब्लॉक में 30 वर्षीय राजेन्द्र सिंह चम्याल की निर्मम तरीके से कुछ लोगों के द्वारा हत्या कर दी गई। घटना कांचुला पुल के नजदीक गांव की है जहां तकरीबन 15 से 20 लोगों ने राजेंद्र चम्याल के ऊपर ताबड़तोड़ लाठी एवं डंडे बरसाने शुरू कर दिए और बेरहमी से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। इस मारपीट में तकरीबन 15 लोग शामिल थे।

घटना के बाद से ही राजेंद्र के घर में हंगामा मच रखा है। वहीं उसकी पत्नी कमला देवी ने अपने पति को इंसाफ दिलाने के लिए कानून की शरण ली और राजस्व पुलिस को कुल 15 लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दी। बुधवार को पुलिस में तहरीर दी गई। मृतक राजेंद्र की पत्नी कमला देवी ने गांव के ही कुछ लोगों के ऊपर राजेंद्र की हत्या का आरोप लगाया है। नामजद तहरीर देने के बावजूद पुलिस ने पूरे मामले को अज्ञात में लिखा है।

अल्मोड़ा की राजस्व पुलिस ने मृतक की पत्नी कमला देवी की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद उनका बयान भी लिया है। नायब तहसीलदार मनीषा मारकाना ने बताया कि उन लोगों के खिलाफ उनके पति की हत्या के आरोप में आर्टिकल 302 के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है। बयान में कमला देवी ने कहा कि उनके पति की मृत्यु के कुछ ही दिन पहले गांव के ही पांच लोगों उनके घर में आए थे और राजेंद्र के साथ मारपीट की थी इसलिए उनको उन लोगों के ऊपर पूरा-पूरा शक है। 5 लोगों के साथ-साथ गांव के कुछ अन्य लोगों के ऊपर है उनका शक है।

मृतक की पत्नी का यकीन है कि गांव के लोगों ने ही निर्ममता से उनके पति की हत्या की है। फिलहाल कमला के बयान के बाद उसके द्वारा बताए गए सभी आरोपी से पुलिस पूछताछ करने में जुटी हुई है। मगर इसमें सवाल यह भी उठता है कि कमला के नामजद तहरीर के बावजूद भी राजस्व पुलिस ने मामला अज्ञात में क्यों दर्ज किया। इसी के साथ-साथ मृतक की पत्नी कमला ने यह भी कहा है कि इस मामले को दबाने की पूरी पूरी कोशिश की जा रही है और उसके पति के हत्यारों को भी बचाने का प्रयास भी किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Coronavirus: केदारनाथ विधायक मनोज रावत कोरोना पॉजिटिव, 23 अक्टूबर को कराई थी आरटीपीसीआर जांच

उत्तराखंड में मंत्रियों, विधायकों से लेकर बड़े अधिकारी तक कोरोना के खतरे से जूझ रहे हैं। हाल में केदारनाथ विधायक मनोज रावत भी कोरोना...

जानें किस दिन बंद होंगे कौनसे चार धाम के कपाट….

आज विजयदशमी के शुभ अवसर पर चारों धाम के कपाट शीतकाल हेतु बंद होने की तिथियां आज विधि-विधान एवं पंचाग गणना के पश्चात निम्नवत...

वीकेंड से पहले ही शुक्रवार को दिनभर पर्यटकों ने नैनी झील में नौका विहार का लिया आनंद

नैनीताल नगर में वीकेंड से पहले ही पर्यटकों की शुक्रवार को दिनभर चहल-पहल रही। इसी तहर शनिवार को भी यहां पर्यटकों की चहल-पहल बरक़रार...

आज अष्टमी व नवमी के अवसर पर मंदिरों और घरों में किया जा रहा कन्या पूजन

शारदीय नवरात्र की अष्टमी व नवमी आज बड़े धूम धाम से मनाई जा रही है। इस दौरान सुबह से ही घरों और मंदिरों में...

Recent Comments