34.3 C
Dehradun
Sunday, November 1, 2020
Home उत्तराखंड जयपुर बस सेवा को लेकर उत्तराखंड परिवहन निगम का बड़ा निर्णय, जानिए...

जयपुर बस सेवा को लेकर उत्तराखंड परिवहन निगम का बड़ा निर्णय, जानिए कब से शुरू होगी जयपुर के लिए सीधी बस सेवा

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तराखंड परिवहन निगम ने गढ़वाल के यात्रियों के लिए कोटद्वार से जयपुर के लिए सीधी बस सेवा की सौगात दी है। इसी तरह कोटद्वार से तीर्थनगरी ऋषिकेश के लिए भी सीधी बस सेवा शुरू होने से लोगों को सहूलियत मिलेगी।

रोडवेज के सहायक महाप्रबंधक टीकाराम आदित्य ने बताया कि निगम मुख्यालय से जयपुर के लिए सीधी बस सेवा संचालन को हरी झंडी दे दी है। यह बस सेवा मंगलवार से शुरू की जा रही है। जयपुर की बस कोटद्वार बस अड्डे से 10:30 बजे दिल्ली होते हुए रवाना होगी।

वही काठगोदाम डिपो के इंचार्ज डीएन जोशी ने बताया कि पहली बस शाम पांच और दूसरी साढ़े सात बजे से जयपुर के लिए रवाना होगी। उन्होंने कहा कि ये दोनों बसें हल्द्वानी बस अड्डे से चलेंगी।

यह बस अगले दिन 1:35 जयपुर से कोटद्वार के लिए वापसी करेगी। एजीएम ने बताया कि ऋषिकेश के लिए कोटद्वार से सुबह 8:00 बजे सीधी बस सेवा चलेगी, जो उसी दिन 12:30 बजे ऋषिकेश से कोटद्वार के लिए वापसी करेगी। इससे तीर्थनगरी का कोटद्वार से सीधा परिवहन संपर्क स्थापित होगा।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Coronavirus: केदारनाथ विधायक मनोज रावत कोरोना पॉजिटिव, 23 अक्टूबर को कराई थी आरटीपीसीआर जांच

उत्तराखंड में मंत्रियों, विधायकों से लेकर बड़े अधिकारी तक कोरोना के खतरे से जूझ रहे हैं। हाल में केदारनाथ विधायक मनोज रावत भी कोरोना...

जानें किस दिन बंद होंगे कौनसे चार धाम के कपाट….

आज विजयदशमी के शुभ अवसर पर चारों धाम के कपाट शीतकाल हेतु बंद होने की तिथियां आज विधि-विधान एवं पंचाग गणना के पश्चात निम्नवत...

वीकेंड से पहले ही शुक्रवार को दिनभर पर्यटकों ने नैनी झील में नौका विहार का लिया आनंद

नैनीताल नगर में वीकेंड से पहले ही पर्यटकों की शुक्रवार को दिनभर चहल-पहल रही। इसी तहर शनिवार को भी यहां पर्यटकों की चहल-पहल बरक़रार...

आज अष्टमी व नवमी के अवसर पर मंदिरों और घरों में किया जा रहा कन्या पूजन

शारदीय नवरात्र की अष्टमी व नवमी आज बड़े धूम धाम से मनाई जा रही है। इस दौरान सुबह से ही घरों और मंदिरों में...

Recent Comments