34.3 C
Dehradun
Friday, April 23, 2021
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड सरकार ने बढ़ाया अखरोट उत्पाद को लेकर बड़ा कदम, ग्रामीण आर्थिकी...

उत्तराखंड सरकार ने बढ़ाया अखरोट उत्पाद को लेकर बड़ा कदम, ग्रामीण आर्थिकी को संवारने का बनेगा बड़ा जरिया

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तराखंड में अखरोट उत्पादन की अपार संभावनाओं को देखते हुए सरकार इसके लिए तेजी से कदम बढ़ा रही है।अखरोट उत्पादन उत्तराखंड में ग्रामीण आर्थिकी को संवारने का बड़ा जरिया बनेगा। मगरा फार्म को अखरोट का सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के तौर पर विकसित करने की तैयारी की है।

कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने बतया कि किसानों की आय दोगुना करने के लिए सरकार मुस्तैदी से जुटी है। इसी क्रम में अखरोट उत्पादन को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इससे किसानों की आय बढ़ने के साथ ही ग्रामीण आर्थिकी भी सशक्त होगी। इस मुहिम को गति देने में मगरा का सेंटर ऑफ एक्सीलेंस मुख्य भूमिका निभाएगा। अखरोट का उत्पादन बढ़ने पर इसके विपणन समेत अन्य पहलुओं पर भी विचार किया जा रहा है।

बता दे की देशभर में अखरोट की 70 हजार मीट्रिक टन से अधिक की मांग है, जबकि उत्पादन इससे कहीं कम है। देश में अखरोट का जो उत्पादन हो रहा है, उसमें लगभग 92 प्रतिशत की भागीदारी अकेले जम्मू-कश्मीर की है। इस लिहाज से देखें तो उत्तराखंड में अखरोट उत्पादन नाममात्र का है। यह तब है, जबकि यहां अखरोट उत्पादन के लिए परिस्थितियां मुफीद हैं। इस सबको देखते हुए सरकार ने अखरोट को आर्थिकी का जरिया बनाने के मद्देनजर इसके उत्पादन को बढ़ावा देने की ठानी है। इस कड़ी में मगरा, मसूरी समेत राज्य में करीब एक दर्जन स्थानों पर नर्सरी स्थापित की गई हैं, जिससे जनसामान्य को अखरोट की पौध आसानी से उपलब्ध हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments