34.3 C
Dehradun
Wednesday, April 21, 2021
Homeदेशभारत में बेरोजगारी बनी सबसे बड़ी समस्या, रोजगार के अवसर हो रहे...

भारत में बेरोजगारी बनी सबसे बड़ी समस्या, रोजगार के अवसर हो रहे हैं कम, WEF ने किया बड़ा खुलासा

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना महामारी के बाद रोजगार के अवसर कम हुए हैं। जिसके चलते दुनियाभर के लाखों-करोड़ों लोगों को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। किसी भी व्यक्ति के लिए नौकरी अपनी आजीविका का साधन होता है। ऐसे में उस व्यक्ति को अपनी नौकरी ही गवानी पड़ जाए तो कैसी होगी उसकी स्थिति। जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते। वही कोरोना संकट ने पिछले साल देश में बेरोजगाारी को रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ा दिया। करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं। वही साल 2020 रोजगार के हिसाब से भारतीय इतिहास के सबसे बुरे वर्षों में से रहा। मार्च में लॉकडाउन लगने के बाद इकोनॉमी पूरी तरह से ठप हो गई और सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इकोनॉमी (CMIE) के अनुसार करीब 11.3 करोड़ लोग बेरोजगार हुए। वही अभी भी देश में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या बनी हुई है।

WEF रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2025 तक हर 10 में 6 लोगों को नौकरी गंवाना पड़ सकती है। जिसका बड़ा कारण है, मशीनी उपकरणों का अधिक उपयोग। रिपोर्ट में बताया गया है कि कोरोना से पहले और कोरोना के दौरान मशीनों के इस्तेमाल में तेजी आई है इसके चलते ज्यादा से ज्यादा लोगों को नौकरी से हाथ धोन पड़ सकता है। मशीनों और आर्टिफिशियल इनटेलिजेंस पर बढ़ती निर्भरता ने 85 मिलियन नौकरियों के नुकसान का खतरा बढ़ा दिया है। आने वाले वर्षों में मशीन और रोबोट 22 सेक्टर में नौकरियों को पूरी तरह से खत्म कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments