34.3 C
Dehradun
Tuesday, January 26, 2021
Home देश श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020: आज इस शुभ मुहूर्त में ऐसे करें कान्हा...

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020: आज इस शुभ मुहूर्त में ऐसे करें कान्हा की पूजा, पढ़िए विस्तार से..

- Advertisement -
- Advertisement -

श्री कृष्ण जन्माष्टमी बहुत ही धूमधाम से मनाई जाएगी। आज सुबह 9.07 बजे के बाद अष्टमी शुरू हो गई है। जो अर्धरात्रि तक रहेगी। बुधवार को अष्टमी सुबह 11:17 तक रहेगी। इसलिए इस दौरान शुभ समय में कान्हा की पूजा करना लाभकारी और फलदायी होगा।
तीर्थ पुरोहित उज्जवल पंडित ने बताया कि मंगलवार को पूजा का शुभ समय रात 12 बजकर 5 मिनट से लेकर 12 बजकर 47 मिनट के बीच रहेगा। जन्माष्टमी पर राहु काल दोपहर 12:27 बजे से 2:06 बजे तक रहेगा। जन्माष्टमी पर इस बार रोहिणी नक्षत्र न रहकर कृतिका नक्षत्र रहेगा।
पंडितों का कहना है कि गृहस्थ लोग कृष्ण जन्म के समय तिथि को मानकर ही व्रत रख सकते हैं। जबकि जो वैष्णव है वे लोग बुधवार को जन्माष्टमी का पर्व मनाएंगे। बुधवार की रात्रि में अष्टमी नहीं होगी। इसीलिए समस्त गृहस्थ आश्रम वालों को अपने परिवार में सुख, धन, पुत्र प्राप्ति के लिए मंगलवार को ही व्रत रखकर करना चाहिए। वहीं, दूसरे दिन यानी बुधवार को भगवान के जन्म का उत्सव है, उनके कृष्ण स्त्रोत्र का पाठ करना चाहिए।

  • मनोकामना के अनुसार ऐसे करें पूजा:
    जो लोग किसी कला में निपुणता प्राप्त करना चाहते हैं वो कृष्ण भगवान के बांसुरी बजाते हुए चित्र का ध्यान करें। जो पुत्र चाहते हैं वो बालकृष्ण का ध्यान पूजन करें, जो धन चाहते हैं वो कान्हा की रुकमणि सहित पूजा करें। वहीं जो प्रेम भक्ति समस्त सुख चाहते हैं वो राधा सहित ध्यान करें। विवाह चाहने वाले सत्यभामा सहित श्रीकृष्ण का पूजन करें। यदि कोई रोग हो गया हो तो कृष्ण के चक्रधारी रूप का पूजन करें। वहीं अवसाद हो तो कृष्ण के सारथी वाले रूप की पूजा अर्चना करें। सभी भय, मृत्यु के भय, सदगति के लिए विश्व रूप का पूजन करें।

  • आइये जानते है राशि अनुसार जन्माष्टमी के व्रत का फल:
    आचार्य सीपी घिल्डियाल ने बताया कि कान्हा का शुभ समय में पूजन करने से राशि के अनुसार पूजा फल मिलेगा।
    मेष राशि: राज्य पद प्राप्ति एवं आकस्मिक धन की प्राप्ति, वृष राशि: ऐश्वर्य प्राप्ति, मिथुन राशि: सभी मनोकामना की पूर्ति, कर्क राशि: शत्रु बाधा का निवारण, सिंह राशि: आरोग्य की प्राप्ति, कन्या राशि: दांपत्य सुख प्राप्ति, तुला राशि: संकटों का निवारण, वृश्चिक राशि: आरोग्य प्राप्ति, धनु राशि: धर्म एवं ज्ञान प्राप्ति, मकर राशि: संपत्ति की प्राप्ति, कुंभ राशि: राज सम्मान की प्राप्ति, मीन राशि: सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments