34.3 C
Dehradun
Tuesday, April 20, 2021
Homeएंटरटेनमेंटरिया चक्रवर्ती के मीडिया ट्रायल से हुई रेखा की तुलना, पति के...

रिया चक्रवर्ती के मीडिया ट्रायल से हुई रेखा की तुलना, पति के सुसाइड के वक्त उन्हें बना दिया था नेशनल वैंप, कहा गया था डायन

- Advertisement -
- Advertisement -

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में पिछले तीन महीने से उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती की मीडिया ट्रायल चल रही है। रिया की यह मीडिया ट्रायल बॉलीवुड के एक पुराने मामले की याद दिलाती है। यह मामला अभिनेत्री रेखा से जुड़ा हुआ है। 1990 में पति मुकेश अग्रवाल की मौत के बाद रेखा को भी इसी तरह की मीडिया ट्रायल का सामना करना पड़ा था और उन्हें नेशनल वैंप करार दे दिया गया था।

सिंगर चिन्मयी श्रीपदा ने हाल ही में ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर की है जिसमें उन्होंने रेखा की बायोग्राफी ‘रेखा: द अनटोल्ड स्टोरी बाय यासेर उस्मान’ में लिखी कुछ बातें शेयर की हैं।

इस बायोग्राफी में बताया गया है कि कैसे पति मुकेश अग्रवाल के सुसाइड कर लेने के बाद रेखा को उनके ससुराल वालों ने डायन कह दिया था और साथ ही उनके बॉलीवुड कलीग्स ने भी उनका अपमान करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। पढ़िए बुक में क्या लिखा गया था…

1) 2 अक्टूबर, 1990, रेखा के पति, मुकेश ने अपनी जिंदगी खत्म कर ली। उन्होंने पत्नी के दुपट्टे का फंदा बनाकर पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली थी। भाई अनिल ने कहा था कि उस दुर्भाग्यपूर्ण दिन मुकेश खुश लग रहे थे लेकिन पता नहीं फिर उन्होंने ऐसा कदम कैसे उठा लिया। रेखा को मुकेश के डिप्रेशन में होने की बात शादी के बाद पता चली थी।

2) मुकेश की मौत के बाद शुरू हुआ आरोप-प्रत्यारोपों का खेल।पूरे देश में विच हंट चला। लोग रेखा को नफरत की नजर से देखने लगे और उन्हें पति को मारने वाली डायन करार दिया गया।

3) मुकेश की मां ने मीडिया से कहा, वो डायन मेरे बेटे को खा गई। भगवान उसे कभी माफ नहीं करेगा।

4) मुकेश के भाई अनिल ने कहा, मेरे भाई ने रेखा को बेहद प्यार किया। वह अपने प्यार के लिए कुछ भी कर सकते थे। वह बर्दाश्त नहीं कर पाए जो रेखा उनके साथ कर रही थीं, और अब वह क्या चाहती हैं, क्या उनकी नजर हमारी दौलत पर है ?

5) सुभाष घई ने कहा था कि रेखा ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री के चेहरे पर कालिख पोत दी है, जो आसानी से नहीं धुलेगी। मुझे लगता है कि इसके बाद कोई भी इज्जतदार परिवार किसी भी एक्ट्रेस को अपने परिवार की बहू बनाने से पहले 4 बार सोचेगा। अब रेखा का करियर भी खत्म ही समझो। कोई भी समझदार डायरेक्टर रेखा को अपनी फिल्मों में नहीं लेगा क्योंकि ऑडियंस अब कभी रेखा को ‘भारत की नारी’ या ‘इंसाफ की देवी’ के तौर पर स्वीकार नहीं करेगी।

6) अनुपम खेर ने कहा था, रेखा अब एक राष्ट्रीय खलनायिका बन चुकी हैं। मुझे समझ नहीं आ रहा की अगर वह मेरे सामने आ गईं तो मैं कैसे रिएक्ट करूंगा।

7) मीडिया में मुकेश के सुसाइड को लेकर कई भड़काऊ हेडलाइंस के साथ फीचर चले जैसे द ब्लैक विडो, द ट्रुथ बिहाइंड मुकेश सुसाइड।

चिन्मयी ने लिखा, ‘1990-2020: 30 साल, वैसा ही केस, वैसा ही रिएक्शन। यह अविश्वसनीय है कि रेखा इससे कैसे बची होंगी?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments