34.3 C
Dehradun
Thursday, April 22, 2021
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड में कोरोना काल में बढ़ती बेरोज़गारी ने छीन ली लोगों की...

उत्तराखंड में कोरोना काल में बढ़ती बेरोज़गारी ने छीन ली लोगों की खाने की थाली: अंतर्राष्ट्रीय समाज सेवी रोशन रतूड़ी

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना काल में पुरे देश में मंदी का दौर छाने लगा है। अर्थव्यवस्था तो मानो जैसे अपना अस्तित्व ही खोती जा रही है। वही पुरे देश में लागू लॉकडाउन के चलते बेरोज़गारी बढ़ती जा रही है। देश के विभीन्न राज्यों में बढ़ती बेरोज़गारी ने लोगों की मुश्किलों को बढ़ाया है। बात करे उत्तराखंड की तो यहां भी रोजगार का स्तर दिन-प्रतिदिन गिरता जा रहा है। बाहरी राज्यों में काम करने वाले लोगो को प्रदेश में आने के बाद अब तक रोजगार नहीं मिल पाया है। इन्हीं सब मुद्दो के साथ एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय समाज सेवी रोशन रतूड़ी अपने वीडियो के माध्यम से सामने आए। रोशन रतूड़ी का कहना है की कोरोना ने बेरोज़गारी को बढ़ावा दिया है। इस बढ़ती बेरोजगारी में उतराखंड के लोगो की थाली ख़ाली नज़र आ रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा की एक इंसानियत के नाते हमें बेरोजगार लोगो की मदद करनी चाहिए।

आज मैं बातें करँगा,उतराखंड में बढ़ती बेरोज़गारी और “कोरोना “ ने किस तरह से , लोगों की मुश्किलों को बढ़ाया है, किस तरह से लोगों की थाली ख़ाली नज़र आ रही है । हम सबको मिलकर बेरोज़गार युवाओं की मदद करनी चाहिए । जिससे कोई भी इंसान, इस “करोना काल “ भुखा ना सो सके ।बहुत से लोगों की खाने की थाली इस कोरोना ने छीन ली है ।#RR #International #SoCial #worker

Posted by Roshan Raturi RR on Thursday, September 10, 2020

अपनी वीडियो में रोशन रतूड़ी ने कहा की कोरोना काल में लोगो की रोजी रोटियां बंद हो चुकी है। खासतौर पर हमारे मजदुर भाई -बहन, होटेलियर्स, हमारे ड्राइवर्स और हमारे कलाकार जो एक्टर है , जो गीतकार है इन सब के जरिये अपना जीवन व्यतीत करते थे जिनकी इन सब से रोजी रोटी चलती थी। उन सब पर कोरोना का बुरा प्रभाव पड़ा है। इस कोरोना काल में लोगो के पास खाने के लिए कुछ नहीं है। लोगो की पूंजी ख़तम हो चुकी है। जो भी बची कूची पूंजी थी वो इस कोरोना काल में ख़तम हो गयी। इस कोरोना काल में कोई दूसरा जरियां न होने की वजह से उनके घरो की थालियां खाली हो गयी है।

रोशन रतूड़ी कहते है की उत्तराखंड के युवाओं पर भी इसका काफी प्रभाव पड़ा है। आज युवा रोजगार के लिए दर-बदर घूम रहा है। उनका कहना है की हम सब को मिलकर बेरोज़गार युवाओं की मदद करनी चाहिए। हमे इंसानियत के नाते आज हर जरूरतमंद इंसान की मदद करनी होगी। इस कोरोना काल में एक दूसरे का सहारा बनना होगा। इस कोरोना काल में हर बेरोज़गार इंसान की मदद करनी चाहिए। जिससे कोई भी इंसान इस महामारी में भुखा न सो सके। बहुत से लोगों की खाने की थाली इस कोरोना ने छीन ली है। हमे जरूरतमंद लोगो के लिए मददगार बनना होगा।

 

जिन मरीज़ों की वजह से चल रहे है अस्पताल कर्मचारियों के घर, उनका हर तरह से सम्मान करे अस्पताल प्रशासन:अंतर्राष्ट्रीय समाज सेवी रोशन रतूड़ी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments