34.3 C
Dehradun
Friday, October 23, 2020
Home उत्तराखंड उत्तराखंड के अन्य शहरों की तरह जल्द ही प्रदेश के बाकि...

उत्तराखंड के अन्य शहरों की तरह जल्द ही प्रदेश के बाकि शहरों को भी जियो फाइबर ब्रॉडबैंड की सुविधा मिलेगी

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून समेत सात शहर जियो फाइबर ब्रॉडबैंड से जुड़ गए हैं। अभी यह सुविधा ऋषिकेश, हरिद्वार, रुड़की, रुद्रपुर, हल्द्वानी और काशीपुर में दी गई है। जल्द ही इसे प्रदेश के अन्य शहरों में भी जियो फाइबर ब्रांडबैंड की सुविधा दी जाएगी। जियो फाइबर ने उत्तराखंड में प्रथम स्थान हासिल कर ली है।

लॉकडाउन के बीच फाइबर आधारित वायर ब्रॉडबैंड की बढ़ती मांग को देखते हुए, रिलायंस जियो ने उत्तराखंड के प्रमुख शहरों में जियो फाइबर ब्रॉडबैंड सर्विस के विस्तार की योजना शुरू की है।
अभी एम्स ऋषिकेश टाउनशिप, पंतनगर विश्वविद्यालय रूद्रपुर और टिहरी हाइड्रो डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के ऑफिस और रिहायशी कॉम्पलेक्स- ऋषिकेश जैसे अनेकों निजी और सरकारी टाउनशिप और प्रतिष्ठान जियो फाइबर से जुड़ चुके हैं। जियो फाइबर 100 एमबीपीएस से एक जीबी तक की डेटा स्पीड दे रहा है। इंटरनेट की तेज स्पीड की वजह से ही यह लोगों और ओद्योगिक घरानों की पहली पसंद बन गया है।
अन्य ऑपरेटरों के मुकाबले कहीं अधिक कनेक्शन
उत्तराखंड में जियो फाइबर के अन्य ऑपरेटरों के मुकाबले कहीं अधिक कनेक्शन हैं। कोरोना महामारी के बीच वायर ब्रॉडबैंड की मांग में जो उछाल आया था, उसे जियो फाइबर ने भर दिया है। इस कठिन वक्त में हजारों परिवार जियो फाइबर की वजह से एक दूसरे से जुड़े हुए हैं।

जियोफाइबर नेटवर्क पर अल्ट्रा-हाई-स्पीड इंटरनेट, स्मार्ट फोन फिक्स्ड लाइन और ओवर द टॉप एप्लीकेशन यानी ओटीटी एप्स जैसी ट्रिपल-प्ले-कॉम्बिनेशन सर्विस मिलती हैं। फिक्स्ड लाइन स्मार्ट फोन से देश में कहीं भी किसी भी नेटवर्क पर फ्री कॉलिंग की जा सकती है, जबकि अल्ट्रा एचडी सेट टॉप बॉक्स पर ओटीटी एप्स का इस्तेमाल कर सामान्य टीवी को स्मार्ट टीवी में बदला जा सकता है।

वहीं, अमेजोन प्राइम, ज़ी 5, सोनी लिव, यूट्यूब, वूट, डिजनी प्लस हॉटस्टार के साथ 350 से अधिक टीवी चैनल भी जियो फाइबर पर देखे जा सकते हैं। जियो फाइबर पर जियोमीट एप के जरिए मल्टीपार्टी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग भी की जा सकती है। जिससे आप वर्चुअल बिजनेस, सामाजिक बैठकें और स्कूल क्लास ले सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने सिस्टम को दिखाया आइना, श्रमदान कर खुद बना डाली दो किमी सड़क, पढ़िए

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने बिना सरकारी मदद के अपने गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए दो किलोमीटर सड़क खोद डाली। चमोली जिले...

दुखद खबर: ड्यूटी के दौरान हुई टिहरी गढ़वाल के ITBP जवान की मौत, घर वालो का रो-रोकर बुरा हाल

टिहरी गढ़वाल के चंबा के स्यूंटा गांव निवासी आइटीबीपी के जवान विजय सिंह पुंडीर की ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा...

चारधाम रेल परियोजना: अधूरे रास्ते में ना छोड़कर अब श्रद्धालुओं को सीधे धामों तक पहुंचाएगी रेल, चारधाम यात्रा होगी और अधिक सुगम ! जानिए

उत्तराखंड में सबसे महत्वकांक्षी रेल परियोजना है चारधाम रेल परियोजना। चारधाम रेल परियोजना का काम जोरों-शोरों से चल रहा है। ऋषिकेश- कर्णप्रयाग रेल परियोजना...

उत्तराखंड: छात्रों से पहले शिक्षकों का बढ़ाया जाएगा अंग्रेजी ज्ञान, जानिए क्या है प्राइमरी स्तर पर अंग्रेजी मजबूत बनाने के लिए शिक्षा विभाग का...

प्राइमरी स्तर पर छात्रों का अंग्रेजी ज्ञान मजबूत बनाने के लिए शिक्षा विभाग एक शानदार काम करने वाला है। स्कूली छात्रों की अंग्रेजी सुधारने...

Recent Comments