34.3 C
Dehradun
Wednesday, April 21, 2021
Homeदेशभारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला, जानिए उनसे जुड़ी...

भारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला, जानिए उनसे जुड़ी बातें

- Advertisement -
- Advertisement -

पहली भारतीय महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला का जन्म 1962 को हरियाणा के करनाल जिले में हुआ था। वह अंतरिक्ष में जाने वाली पहली भारतीय महिला और भारतीय अमेरिकी हैं। भारत में अपने बचपन में, वह भारत की पहली पायलट जे आर डी टाटा से प्रेरित थी और वह हमेशा उड़ान भरने का सपना देखती थी। महज 41 साल की उम्र में दूसरा स्पेस ट्रैवल करने वाली कल्पना ने इतनी कम उम्र में ही दुनिया को और खासकर अंतरिक्ष विज्ञान में काम करने की ख्वाहिश रखने वाले युवाओं को बड़ा संदेश दे दिया था। कल्‍पना चावला हमेशा युवाओं से सपने को साकार करने की बात पर जोर देती रहीं। 1 फरवरी 2003 को कोलंबिया स्पेस शटल के दुर्घटनाग्रस्त होने के साथ कल्‍पना की उड़ान रुक गई लेकिन आज भी वह दुनिया के लिए एक मिसाल हैं। उनके वे शब्द सत्य हो गए जिसमें उन्होंने कहा था कि मैं अंतरिक्ष के लिए ही बनी हूं। कल्पना चावला की आखिरी इच्छा के तौर पर उनका अंतिम संस्कार अमेरिका के उटाह के सियोन नेशनल पार्क में किया गया और अंतिम विदाई दी गई। अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली भारतीय मूल की पहली महिला ने पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की। चावला 20 साल की उम्र में संयुक्त राज्य अमेरिका चली गई और दो साल बाद एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री हासिल की और 1984 टेक्सस यूनिवर्सिटी से आगे की पढ़ाई की। 1995 में कल्पना नासा में अंतरिक्ष यात्री के तौर पर शामिल हुईं और 1998 में उन्हें अपनी पहली उड़ान के लिए चुना गया। अंतरिक्ष की पहली यात्रा के दौरान उन्होंने अंतरिक्ष में 372 घंटे बिताए और पृथ्वी की 252 परिक्रमाएं पूरी की। जिसके बाद वो अंतरिक्ष में जाने वाली पहली भारतीय महिला बन गई। उन्हें कविता के साथ-साथ स्कूल में नृत्य करने का भी शौक था। एक बच्चे के रूप में, वह हवाई जहाज और उड़ान से रोमांचित थी और अपने पिता के साथ स्थानीय फ्लाइंग क्लब में जाया करती थीं। उनके निधन के बाद उनके सम्मान में कई विश्वविद्यालयों, छात्रवृत्ति और यहां तक ​​कि सड़कों का नामकरण किया गया। वही पिछले साल सितंबर में, यूएस स्थित एयरोस्पेस और रक्षा कंपनी नॉर्थ्रॉप ग्रुम्मन ने अपना अगला स्पेसशिप का नाम कल्पना चावला के नाम पर रखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments