34.3 C
Dehradun
Saturday, October 24, 2020
Home स्पोर्ट्स कभी मिली थी झाड़ू लगाने की नौकरी IPL ने बदल दी किस्मत

कभी मिली थी झाड़ू लगाने की नौकरी IPL ने बदल दी किस्मत

- Advertisement -
- Advertisement -

मेहनत से जिंदगी का रंग भी बदल जाता है इसका बखूबी उदाहरण है क्रिकेटर रिंकू सिंह ।
रिंकू से एक गरीब परिवार से आते हैं । जिनका जन्म उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हुआ है । रिंकू के पिता एलपीजी सिलेंडर की डिलीवरी क्या करते हैं और उनके भाई ऑटो रिक्शा का कार्य करते हैं । रिंकू सिंह पांच भाई बहन है । बचपन से ही रिंकू को क्रिकेट का कॉफी शौक रहा लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति के कारण उन्होंने पैसे कमाने के लिए नौकरी ढूंढने की कोशिश की । रिंकू की पढ़ाई केवल नवमी कक्षा तक हुई है इस कारण उन्हें अच्छे पदों पर नौकरी मिलना मुश्किल था । घर की गरीबी के चलते उनके भाई ने उन्हें झाड़ू मारने की नौकरी दिलाई ।

2014 में किया क्रिकेट में डेब्यू

2014 में उन्होंने क्रिकेट में अपना डेब्यू किया । विदर्भ के खिलाफ 2014 में उन्होंने रणजी ट्रॉफी में क्रिकेट में डेब्यू किया और अपने प्रदर्शन के दम पर खुद को साबित करने में जुट गए । क्रिकेट से उन्हें कोई भी पैसा मिलता तो अपने घर के खर्चों में लगा देते । क्रिकेट खेलते खेलते हैं रिंकू ने अपने परिवार का खर्चा उठाना भी लगभग शुरू कर दिया ।

किंग्स इलेवन पंजाब ने 2017 में अपनी टीम में किया शामिल

2017 के आईपीएल में रिंकू सिंह को किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 10 लाख रुपए में खरीद कर अपनी टीम मे शामिल किया । किंग्स इलेवन पंजाब ने रिंकू सिंह को बतौर बल्लेबाज अपनी टीम में शामिल किया था लेकिन रिंकू को टीम से ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला ।

बदल गई किस्मत 2018 में

रिंकू सिंह की किस्मत तब बदली जब 2018 में केकेआर ने रिंकू को 80 लाख रुपयों में खरीद कर अपनी टीम में शामिल किया । इसके बाद से रिंकू ने अब तक 10 मैच खेले हैं और 66 रन बनाए हैं । हालांकि रिंकू ने क्रिकेट में अभी तक कोई सफल मुकाम हासिल नहीं किया है , लेकिन आईपीएल खेलने से उनके घर और परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधारने का एक जरिया जरूर बना है ।

क्रिकेट से मिले इनाम से पिता को गिफ्ट की एक बाइक

रिंकू ने अपनी किस्मत को बदलने के लिए क्रिकेट का सहारा लिया , और क्रिकेट को काफी गंभीरता से लेते हुए उसकी तैयारी करने लगे । उन्होंने दिल्ली मे एक टूर्नामेंट खेला था जिसमें उन्होंने मैन ऑफ द सीरीज का खिताब जीता । मैन ऑफ द सीरीज के खिताब में उन्हें बाइक दी गई जिसे रिंकू सिंह ने अपने पापा को गिफ्ट में दे दी । ताकि उनके पिता एलपीजी सिलेंडर की डिलीवरी आसानी से कर सकें ।

घरेलू क्रिकेट में रिंकू सिंह का सफर

रिंकू सिंह के घरेलू क्रिकेट करियर की अगर बात करें रिंकू ने अभी तक 27 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं इस दौरान उन्होंने 2007 रन बनाए हैं , वही इन मैचों में 5 शतक और 12 अर्धशतक भी लगाए हैं । उन्होंने 30 लिस्ट ए मैचों में 924 रन बनाकर 7 अर्धशतक लगाए हैं। रिंकू ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 5 विकेट लिए तथा लिस्ट ए क्रिकेट में 7 विकेट अपने नाम किए हैं । नहीं अभी तक रिंकू ने 53 t20 मैच खेले हैं । टी-20 मैच में रिंकू ने अभी तक 137.97 की स्ट्राइक रेट के साथ 763 रन बनाए हैं ।

रणजी सीजन में बल्लेबाजी का मिला मौका
2018 और 19 में रिंकू ने रणजी सीजन में उत्तर प्रदेश की टीम की ओर से शानदार बल्लेबाजी की । रणजी सीजन में उन्होंने 10 मैच खेल कर 953 रन बनाए जिसमें चार शतक और तीन अर्धशतक अपने नाम कर सीजन के तीसरे सबसे शानदार प्रदर्शन वाले बल्लेबाजी का खिताब अपने नाम किया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

दशहरा 2020 : इस बार देहरादून में सादगी से मनाया जाएगा दशहरा 10 फीट के रावण होगा दहन

देहरादून के परेड ग्राउंड में होने वाले ऐतिहासिक रावण दहन कार्यक्रम इस बार रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल में होगा। इस बार बीच रावण की...

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने सिस्टम को दिखाया आइना, श्रमदान कर खुद बना डाली दो किमी सड़क, पढ़िए

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने बिना सरकारी मदद के अपने गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए दो किलोमीटर सड़क खोद डाली। चमोली जिले...

दुखद खबर: ड्यूटी के दौरान हुई टिहरी गढ़वाल के ITBP जवान की मौत, घर वालो का रो-रोकर बुरा हाल

टिहरी गढ़वाल के चंबा के स्यूंटा गांव निवासी आइटीबीपी के जवान विजय सिंह पुंडीर की ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा...

चारधाम रेल परियोजना: अधूरे रास्ते में ना छोड़कर अब श्रद्धालुओं को सीधे धामों तक पहुंचाएगी रेल, चारधाम यात्रा होगी और अधिक सुगम ! जानिए

उत्तराखंड में सबसे महत्वकांक्षी रेल परियोजना है चारधाम रेल परियोजना। चारधाम रेल परियोजना का काम जोरों-शोरों से चल रहा है। ऋषिकेश- कर्णप्रयाग रेल परियोजना...

Recent Comments