34.3 C
Dehradun
Saturday, November 28, 2020
Home उत्तराखंड उपभोक्ताओं के लिए इंडेन गैस सर्विस के नए नंबर बनी मुसीबत

उपभोक्ताओं के लिए इंडेन गैस सर्विस के नए नंबर बनी मुसीबत

- Advertisement -
- Advertisement -

इंडेन गैस सर्विस की बुकिंग और रिफिल के लिए जारी मोबाइल और व्हाट्सएप नंबर उपभोक्ताओं के लिए मुसीबत बनी हुई हैं। नंबर पर या तो संपर्क नहीं हो रहा है या अधिकांश समय व्यस्त चल रहा है। वहीं, बुकिंग के लिए जारी व्हाट्सएप नम्बर पर भी समस्या आ रही है। ऐसे में हजारों उपभोक्ता गैस बुकिंग नहीं करवा पा रहे हैं। एक नवंबर से देशभर में ऑनलाइन गैस बुकिंग अनिवार्य कर दी गई है। बिना ओटीपी के उपभोक्ताओं को गैस नहीं दी जाएगी। एक नवंबर से इंडेन गैस सर्विस ने भी देशभर में गैस रिफिल और बुकिंग के लिए नए नंबर जारी कर दिए हैं। पुराना नंबर इंडेन गैस सर्विस ने 31 अक्तूबर से बंद कर दिया है।
अब इंडेन के यह नए नंबर उपभोक्ताओं के लिए मुसीबत बन गए हैं। कई कोशिशों के बाद भी नए नंबरों पर न तो गैस रिफिल हो पा रही है और न ही बुकिंग। ऐसे में उन उपभोक्ताओं को भटकना पड़ रहा है।
यह नंबर किए हैं जारी
रिफिल नंबर- 7718955555
बुकिंग व्हाट्सएप नंबर- 7588888824

हजारों उपभोक्ता ऐसे भी हैं, जिन्होंने अभी तक अपना नंबर गैस एजेंसी में रजिस्टर्ड नहीं कराया है। जबकि, गैस बुकिंग के लिए नंबर पंजीकृत होना जरुरी है। हालांकि, कंपनी का दावा है कि बिना रजिस्टर्ड नंबर से भी गैस बुकिंग हो सकती है, लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

उत्तराखंड का इतिहास है बहुत प्राचीन, आइये जाने इसके बारे में ।

उत्तराखंड का इतिहास उतना ही पुराना है जितना कि मानव जाति का। यहाँ कई शिलालेख, ताम्रपत्र व प्राचीन अवशेष भी प्राप्त हुए हैं। जिससे...

जानिए उत्तराखंड के प्रागैतिहासिक काल की विशेषताएं

उत्तराखण्ड के विभिन्न स्थलों से प्राप्त होने वाले पाषाणोपकरण, गुफा, शैल-चित्र, कंकाल मृदभाण्ड तथा धातु-उपकरण प्रागैतिहासिक काल में मानव निवास की पुष्टि करते हैं।...

गढ़वाल राइफल का सपूत बॉर्डर पर शहीद, पाकिस्तानी गोलीबारी में हुए थे घायल

पाकिस्तान सेना ने एक बार फिर जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास पुंछ जिले में संघर्ष विराम का उल्लघंन करते हुए पाकिस्तानी गोलीबारी में...

उत्तराखंड में होने वाले प्रमुख मेले, जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए

गढ़वाल- कुमाऊँ की संस्कृति यहाँ के मेलों में समाहित है।उत्तराखंड में साल भर अलग-अलग उत्सव और मेले का आयोजन होता रहता है। रंगीले कुमाऊँ के मेलों...

Recent Comments