- Advertisement -

 

बागेश्वर जिले के बनेग गांव निवासी गर्भवती गीता देवी (25) पति राजेंद्र बृहस्पतिवार को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए जिला अस्पताल बागेश्वर दिखाने आई थी। महिला का सुबह से स्वास्थ्य खराब था, जांच में ब्लड प्रेशर अधिक होने पर उसे हायर सेंटर रेफर किया गया था। परिजन उसे 108 के माध्यम से महिला अस्पताल अल्मोड़ा लाए। लेकिन रास्ते में एनटीडी के समीप महिला की मौत हो गई।

महिला अस्पताल अल्मोड़ा के सीएमएस डॉ. दीपक गर्ब्याल ने बताया कि महिला के अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। परिजनों ने बताया कि महिला की प्रसव की तिथि 14 अगस्त थी, सुबह स्वास्थ्य परीक्षण के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कांडा लेकर गए थे। अस्पताल में डॉक्टर नहीं मिलने पर वह जिला अस्पताल बागेश्वर गए। वहां से रेफर करने के बाद उसे यहां लाया गया।

मौत की खबर सुनते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि महिला की शादी तीन साल पहले हुई थी। वह पहली बार गर्भवती हुई थी। अस्पताल पहुंचने पर महिला की सास कमला देवी को उसकी मौत के बारे में जानकारी नहीं थी। वह बार-बार बहु की तबियत पूछती रही।