34.3 C
Dehradun
Saturday, October 24, 2020
Home हेल्थ & लाइफस्टाइल मॉनसून में जल्दी पड़ते हैं बीमार! वायरल से बचाव के लिए कारगर...

मॉनसून में जल्दी पड़ते हैं बीमार! वायरल से बचाव के लिए कारगर हैं ये घरेलू उपाय!

- Advertisement -
- Advertisement -

मौसम बदलने से बीमारियां भी बदल जाती है । देश में गर्मियों का मौसम के बाद मानसून का मौसम शुरू हो गया है ।
मानसून शुरू होते ही बीमारियां भी शुरू हो जाती है । मानसून के साथ-साथ खांसी सर्दी और बुखार का डर भी शुरू हो जाता है । और मानसून अपने साथ कई प्रकार के जीवाणु भी लेकर आते हैं जिसे माना जाता है कि शरीर की इस वजह से रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है , और तमाम प्रकार की बीमारियां होने लगती है । मानसून के सीजन में खांसी जुकाम के लिए घरेलू नुस्खों का उपाय जरूरी है ।

आइए जानते हैं खांसी जुकाम के घरेलू उपाय

सबसे पहले लक्षणों की अगर बात की जाए तो फ्लू और वायरस के लक्षण भी कोरोनावायरस के लक्षणों के समान ही है ऐसे में दोनों की पहचान करना मुश्किल है । यदि आपको फ्लू और वायरस के लक्षण लगातार दिखाई पड़ रहे हैं तो इस संबंध में डॉक्टरों से परामर्श लेना आवश्यक हो जाता है ।

फ्लू और वायरल के लक्षण :

1. सिर दर्द
2. नाक बंद
3. खांसी
4. बुखार
5. गले में खराश
6 . मांसपेशियों में खिंचाव

फ्लू और वायरल के होने पर के जाने वाले घरेलू नुस्खे

1.दूध में हल्दी मिलाकर पर पदार्थों का करें सेवन

फ्लु और वायरल के लक्षण दिखने पर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर असर पड़ता है । इसलिए सबसे पहले शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए पिया पदार्थों का सेवन किया जाना आवश्यक है । ब्लू और वायरल में इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए दूध में हल्दी मिलाकर पीना भी बेहद लाभकारी माना जाता है । हल्दी एंटीवायरल और एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण पाए जाते हैं जिससे मौसम बदलने पर सर्दी खांसी और बुखार को दूर करने में मदद मिलती है । वही दूध में सभी प्रकार के पोषक तत्व उपलब्ध होते हैं । ऐसे में हल्दी को दूध में मिलाकर उसका सेवन करने से बुखार और खांसी से बचाव किया जा सकता है । हल्दी वाले दूध का सेवन रोजाना रात को सोने से पहले गुनगुने पानी में करना चाहिए ।

2. नींबू और इलायची तथा शहद का मिश्रण

आधा चम्मच शहद के साथ एक चुटकी इलायची और कुछ मात्रा में नींबू का रस मिलाकर उसका सेवन करने से बुखार और खांसी जुकाम से राहत मिलती है । उपाय बुखार और बीमार पड़ने पर शरीर के बचाव के लिए काफी लाभदायक माना जाता है । यह तीनों चीजें ही स्वास्थ्य के लिए और रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए बेहद फायदेमंद मानी जाती है ।

3. भाप ले

सर्दी जुखाम होने पर सबसे आसान और सही तरीका है घर में गर्म पानी का गर्म पानी का भाप लेना । भाप लेने से नाक बंद जैसी समस्याओं से राहत मिलती है और गले और सीने में हो रही जकड़न से भी आराम मिलता है । भाप को सादे पानी अथवा पुदीने की पत्तियां और अजवाइन की पत्तियां पानी में डालकर भी भाप लिया जा सकता है । सबसे आसान घरेलू नुस्खा है जिससे शरीर को काफी राहत मिलती है ।

4. अदरक और लहसुन

अदरक और लहसुन स्वयं में ही एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी इन्फ्लेमेटरी के गुण से भरपूर होते हैं । डॉक्टरों द्वारा भी मानसून में अदरक और लहसुन का सेवन करने की सलाह दी जाती है । अदरक और लहसुन को खाने में भी कई प्रकार से इस्तेमाल किया जाता है । वही यदि आप से खाने में नहीं खाना चाहते हैं तो अदरक को छोटे टुकड़ों में काटकर हल्का सा नमक मिलाने के बाद भी उसका सेवन किया जा सकता है और लहसुन को घी में भूनकर गरम गरम ही उसका सेवन किया जा सकता है । सबसे बेहतरीन और फायदेमंद घरेलू नुस्खा है जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जाता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

दशहरा 2020 : इस बार देहरादून में सादगी से मनाया जाएगा दशहरा 10 फीट के रावण होगा दहन

देहरादून के परेड ग्राउंड में होने वाले ऐतिहासिक रावण दहन कार्यक्रम इस बार रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल में होगा। इस बार बीच रावण की...

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने सिस्टम को दिखाया आइना, श्रमदान कर खुद बना डाली दो किमी सड़क, पढ़िए

सतभयकोट-खुलाई के ग्रामीणों ने बिना सरकारी मदद के अपने गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए दो किलोमीटर सड़क खोद डाली। चमोली जिले...

दुखद खबर: ड्यूटी के दौरान हुई टिहरी गढ़वाल के ITBP जवान की मौत, घर वालो का रो-रोकर बुरा हाल

टिहरी गढ़वाल के चंबा के स्यूंटा गांव निवासी आइटीबीपी के जवान विजय सिंह पुंडीर की ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा...

चारधाम रेल परियोजना: अधूरे रास्ते में ना छोड़कर अब श्रद्धालुओं को सीधे धामों तक पहुंचाएगी रेल, चारधाम यात्रा होगी और अधिक सुगम ! जानिए

उत्तराखंड में सबसे महत्वकांक्षी रेल परियोजना है चारधाम रेल परियोजना। चारधाम रेल परियोजना का काम जोरों-शोरों से चल रहा है। ऋषिकेश- कर्णप्रयाग रेल परियोजना...

Recent Comments