34.3 C
Dehradun
Sunday, January 24, 2021
Home उत्तराखंड अस्पताल द्वारा स्वास्थ्य कार्ड इंकार किए जाने पर गरीब महिला ने लिखा...

अस्पताल द्वारा स्वास्थ्य कार्ड इंकार किए जाने पर गरीब महिला ने लिखा सीएम को खुला खत, त्रिवेंद्र सरकार स्वास्थ्य विभाग को लेकर कितनी सतर्क ? जानिए

- Advertisement -
- Advertisement -

आयदिन प्राईवेट अस्पताल सरकार की महत्वकाशी योजना को असफल बनाने पर तुले हुए हैं, और सरकार द्वारा जारी आयुष्मान भारत का स्वास्थ्य कार्ड को मानने तक तैयार नही हैं। ऐसा ही एक मामला चमोली से सामने आया है, चमोली की एक महिला ने देहरादून स्थित महंत इंद्रेश हॉस्पिटल में स्वास्थ्य कार्ड को अस्वीकार किये जाने पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को खुला खत लिखा है। जबकि कुछ दिन पहले ही राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने अपना बयान दिया था कि पंजीकृत अस्पतालों को 25 बेड आरक्षित रखने पड़ेंगे, और पात्र लाभार्थि के पास कार्ड न होने पर भी उनका इलाज किया जाएगा।

जनपद चमोली की प्रियंका देवी ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को एक पत्र लिखा है जिसमे उन्होंने कहा कि मैं महंत इंद्रेश हॉस्पिटल देहरादून में एडमिट हु और हाल ही में मेरा प्रसव हुआ है और मेरा छोटा बच्चा घर मे हैं। मुझे जिला चिकित्सालय गोपेश्वर से श्रीनगर रैफर किया गया, लेकिन स्वास्थ्य ज्यादा खराब होने से मुझे देहरादून महंत हॉस्पिटल में एडमिट होना पड़ा, और यहां मेरा आयुष्मान भारत का स्वास्थ्य कार्ड हैं।

लेकिन अस्पताल ने इसको अस्वीकार कर दिया हैं। मेरी परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय हैं। और मैं आयुष्मान कार्ड से ईलाज करवाना चाहती हु इसलिए सरकार मेरी मदद करे। वही पीड़िता के पति ने कहा कि यदि आयुष्मान कार्ड ने चलने ही नही है तो फिर सरकार ने ऐसा योजना बनाई क्यों हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments