34.3 C
Dehradun
Wednesday, January 27, 2021
Home देश गुजरात में स्वास्थ्य मंत्री के बेटे ने कर्फ्यू के नियमों की उड़ाई...

गुजरात में स्वास्थ्य मंत्री के बेटे ने कर्फ्यू के नियमों की उड़ाई धज्जियां रोकने वाली महिला कांस्टेबल ने दिया इस्तीफा

- Advertisement -
गुजरात सरकार एक तरफ कोरोना महामारी को लेकर लोगों से मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील कर रही है. वहीं सूत्रों से पता चला है की प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री के बेटे और उनके साथी सत्ता की ताकत के नाम पर कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं. इतना ही नहीं, पुलिस ने अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए उनसे मास्क नहीं लगाने को लेकर पूछताछ कर ली तो उसे बाद में इस्तीफा देना पड़ गया. मामला सूरत के वराछा थाना क्षेत्र के मिनी बाजार इलाके का है.
जहां शुक्रवार रात करीब 10.30 बजे के करीब स्वास्थ्य राज्यमंत्री कुमार कानानी के बेटे और उनके साथी बिना मास्क लगाए सड़क पर घूम रहे थे.
- Advertisement -

मौके पर तैनात सुनीता यादव नाम की महिला पुलिस कर्मी ने समर्थकों को रोक कर कर्फ्यू के दौरान बाहर निकलने और मास्क नहीं लगाने को लेकर सवाल पूछे | कर्तव्यनिष्ठ लेडी कॉन्स्टेबल सुनीता यादव ने उसे रोका तो बदतमीजी पर उतर आया। बाप के मंत्रिपद के नशे में लेडी कॉन्स्टेबल को 365 दिन वहीं खड़े होने की सजा की बात करने लगा। लेडी कॉन्स्टेबल ने साफ बोल दिया कि, वर्दी कानून की है, तेरे बाप की दी हुई नहीं है। जिस पर कानूनन कार्यवाही की गई। लेकिन यह महिला पुलिस कर्मी बिना डरे अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए मौके पर डटी रही.

उसने अपने सीनियर अधिकारी को फोन किया और सारी वस्तुस्थिति समझाई उनके हाथ-पांव फूल गए. उन्होंने महिला सिपाही को घर जाने को कह दिया. क्योंकि सीनियर से ऑर्डर था घर जाने को तो पुलिसकर्मी मौके से रवाना हो गई.

बताया जा रहा है कि महिला पुलिस ने पुलिसिया सिस्टम से तंग आकर अपना इस्तीफा सौंप दिया है. वहीं दूसरी तरफ सूरत के पुलिस कमिश्नर राजेंद्र ब्रह्मभट्ट ने इस मामले की जांच एसीपी सीके पटेल को सौंप दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments