34.3 C
Dehradun
Monday, April 19, 2021
HomeदेशKisan Andolan: आज सुप्रीम कोर्ट में किसान आंदोलन और कृषि कानूनों से...

Kisan Andolan: आज सुप्रीम कोर्ट में किसान आंदोलन और कृषि कानूनों से जुड़े सभी मामलों की होगी सुनवाई, पढिए पूरी खबर

- Advertisement -
- Advertisement -

किसान आंदोलन अभी भी जारी है। इसमें किसान अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। वही आज सुप्रीम कोर्ट में किसान आंदोलन और कृषि कानूनों से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई होगी। किसान आंदोलन से जुड़ी कई याचिकाएं कोर्ट में दायर हुई थीं। कुछ याचिकाओं में आंदोलन को खत्म करने की मांग की गई है, तो कई याचिकाओं में तीनों कानूनों को रद्द करने की। इन्हीं सब याचिकाओं पर अब चीफ जस्टिस एसए बोबड़े, जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस वी रामसुब्रमण्यम की बेंच सुनवाई करेगी। इस मामले की आखिरी सुनवाई 17 दिसंबर को हुई थी। गौरतलब है कि पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने कहा था कि वह किसान आंदोलन को समाप्त करने और कृषि कानूनों को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई करेगा। हालांकि, सरकार ने इसका विरोध किया था और कहा था कि यदि कानूनों की वैधता पर सुनवाई शुरू की गई, तो किसानों से बातचीत रोकनी पड़ेगी। सरकार ने कहा था कि किसानों से बातचीत का अगला दौर शनिवार को होगा। लेकिन ये बातचीत विफल हो गई। किसान कानूनों को वापस लेने पर अड़े हैं।

जानें आखिर किसानों की मांगें क्या हैं? और क़्या कह रही है सरकार-

1. खेती से जुड़े तीनों कानून रद्द हों। किसानों के मुताबिक इससे कॉर्पोरेट घरानों को फायदा होगा।
सरकार का रुखः कानून वापस नहीं ले सकते। संशोधन कर सकते हैं।

2. MSP का कानून बने, ताकि उचित दाम मिल सके।
सरकार का रुखः आंदोलन खत्म करने को तैयार हैं, तो आश्वासन दे सकते हैं।

3. नया बिजली कानून न आए, क्योंकि इससे किसानों को बिजली पर मिलने वाली सब्सिडी खत्म हो जाएगी।
सरकार का रुखः बिजली कानून 2003 ही लागू रहेगा। नया कानून नहीं आएगा।

4. पराली जलाने पर 5 साल तक की जेल और 1 करोड़ रुपए जुर्माने वाला प्रस्ताव वापस हो।
सरकार का रुखः पराली जलाने पर किसी किसान को जेल नहीं होगी। सरकार इस प्रावधान को हटाने को राजी है।

सरकार का कहना है कि यदि सर्वोच्च अदालत किसानों के हक में फैसला करता है तो किसानों को आंदोलन करने की जरूरत नहीं रहेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments