34.3 C
Dehradun
Thursday, April 22, 2021
Homeदेशदिल्ली पुलिस ने किया चार दंपत्ति को गिरफ्तार, फर्जी दस्तावेजों के जरिए...

दिल्ली पुलिस ने किया चार दंपत्ति को गिरफ्तार, फर्जी दस्तावेजों के जरिए क्रेडिट कार्ड और बैंकों को लगाते थे चुना

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो फर्जी दस्तावेजों के आधार पर पहले तो अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड या फिर वोटर पहचान पत्र तैयार करवाता और फिर इन फर्जी दस्तावेजों के माध्यम से देसी विदेशी बैंकों के क्रेडिट कार्ड हासिल करता था। इसके साथ ही इन्हीं फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अलग-अलग बैंकों में खाते भी खुलवाता था।
यह गिरोह फर्जी पहचान पर तैयार कराए गए क्रेडिट कार्ड से ज्वैलरी व अन्य कीमती सामान खरीदता और कैश भी निकलवाता था। रकम को वह फर्जी नाम पते पर खोले गए बैंक अकाउंट में जमा करवाता था ताकि किसी को कोई शक न हो और अगर शक हो भी तो पुलिस उन तक न पहुंच सके।
पुलिस ने इस मामले में चार दंपत्तियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए पुरुष समय समय पर अपना हुलिया भी बदल लिया करते थे, जैसे कभी दाढ़ी बढ़ाना, कभी क्लीन शेव हो जाना।
इनके पास से 14 लाख 50 हजार रुपये से ज्यादा की नकदी, लाखों रुपये की ज्वैलरी, 60 से ज्यादा फर्जी पहचान पर तैयार क्रेडिट कार्ड आदि बरामद किए गए हैं। इसके अलावा अलग-अलग बैंकों में उन्होंने अकाउंट खुलवा रखे थे, जिनमें ₹50 लाख से ज्यादा की रकम जमा होने की जानकारी पुलिस को मिली है। पुलिस अब इस मामले के जाँच में जुटी हुई है कि इन लोगों के साथ और कौन-कौन लोग शामिल हैं?
इसके बाद पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाते हुए 8 लोगों को गिरफ्तार किया और उनके पास से फर्जी आधार कार्ड, वोटर आई कार्ड, पैन कार्ड आदि बरामद किए गए। इसके अलावा अलग-अलग बैंकों के और अलग-अलग बैंकों में खुलवाए गए खातों की पास बुक आदि बरामद की गई है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों में 4 पुरुष और 4 महिलाएं हैं।
चारों पुरुष इस फर्जीवाड़े के सूत्रधार हैं, जो फर्जी पहचान पत्र तैयार करते थे और फिर उनके आधार पर अलग-अलग बैंकों में क्रेडिट कार्ड अप्लाई करते थे। क्रेडिट कार्ड हासिल करने के बाद तुरंत ही उसके माध्यम से ज्वैलरी आदि खरीद लिया करते थे।
इतना ही नहीं इन लोगों के पास दो स्वाइप मशीन भी थी, जिससे ये लोग फर्जी ट्रांजैक्शन करते थे और उसकी रकम भी अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर देते थे। इन लोगों ने अपनी पत्नियों के नाम पर भी फर्जी क्रेडिट कार्ड जारी करवाए हुए थे और उनकी पत्नी के माध्यम से भी ये लोग खरीदारी आदि करवाते थे। पुलिस ने इन आठों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस पूरे फर्जीवाड़े का मास्टरमाइंड मनीष है, जो उमेश और रवि नाम के व्यक्तियों से फर्जी दस्तावेज तैयार करवाता था। इन दोनों आरोपियों की तलाश की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments