34.3 C
Dehradun
Wednesday, January 20, 2021
Home जॉब्स & करियर इंजीनियरिंग के बाद अब मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम की तैयारियां शुरू, 13 सितंबर...

इंजीनियरिंग के बाद अब मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम की तैयारियां शुरू, 13 सितंबर को होने वाली परीक्षा में शामिल होंगे 15.97 लाख कैंडिडेट्स

- Advertisement -
  • 1 से 6 सितंबर के बीच इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित हुआ जेईई मेन
  • मेडिकल एंट्रेस एग्जाम NEET- UG के जरिए देशभर के मेडिकल कॉलेजों में मिलेगा एडमिशन
- Advertisement -

JEE मेन के बाद, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) अब 13 सितंबर को होने वाले मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम NEET 2020 के आयोजन की तैयारी कर रहा है। इस बार नीट के लिए 15 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए 1 सितंबर से शुरू हुई जेईई मेन रविवार को पूरी हो चुकी है। कोरोना महामारी के मद्देनजर दो बार स्थगित होने के बाद अब यह एंट्रेंस एग्जाम सितंबर में आयोजित किए जा रहे हैं।

एजेंसी ने बढ़ाई परीक्षा केंद्रों की संख्या

एनटीए अधिकारियों के मुताबिक, पेन-पेपर बेस्ड इस परीक्षा में देश भर के 15.97 लाख कैंडिडेट्स शामिल होंगे। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए, NTA ने NEET के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या 2,546 से बढ़ाकर 3,843 कर दी है। साथ ही हर क्लास में बैठने वाले स्टूडेंट्स की संख्या भी 24 से घटाकर 12 कर दी है। एनटीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि परीक्षा केंद्रों के बाहर पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं, ताकि इंतजार करते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सकें।

टच फ्री रहेगी एग्जाम की प्रोसेस

संक्रमण से बचाव के लिए परीक्षा की पूरी प्रक्रिया टच फ्री रहेगी। एग्जाम सेंटर में एक साथ पहुंचने पर होने वाली भीड़ को रोकने के लिए कैंडिडेट्स को रिपोर्टिंग के लिए टाइम स्लॉट दिए गए है। साथ ही सभी स्टाफ मेंबर और कैंडिडेट के तापमान की भी जांच की जाएगी। इस दौरान यदि किसी में कोरोनावायरस के लक्षण दिखाई देते हैं, तो उन्हें अलग से आइसोलेशन रूम में रखा।

3 मई को होनी थी परीक्षा

मूल रूप से 3 मई को होने वाली NEET-UG को कोरोना के चलते पहले 26 जुलाई को आयोजित किया जाना था, लेकिन फिर इसे 13 सितंबर तक के लिए स्थगित कर दिया गया। कोरोना के बीच हो रही परीक्षा के मद्देनजर एजेंसी ने पहले ही एडवाइजरी जारी कर दी है। जारी एडवाइजरी में एजेंसी ने स्टूडेंट्स के लिए कई अहम गाइडलाइंस जारी की है।

इन बातों का रखें ध्यान कैंडिडेट्स

  • मुंह पर मास्क और हाथों में दस्ताने पहनने होंगे।
  • पारदर्शी बोतल में पीने का पानी ला सकेंगे।
  • 50 एमएल की पारदर्शी हैंड सैनिटाइजर बोतल लाने की अनुमति होगी।
  • नकल रोकने के लिए मेटल डिटेक्टर से छात्रों की जांच होगी।
  • किसी भी प्रकार के मैटल आदि से बने प्रोडक्ट को अपने साथ न लाएं।
  • मेटल डिटेक्टर से सीधे संपर्क के बिना होगी जांच।
  • परीक्षा से संबंधित दस्तावेज एडमिट कार्ड, सरकारी फोटो पहचान पत्र साथ रखें।

कई राज्यों ने शुरू किए फ्री ट्रांसपोर्ट

ओडिशा, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की सरकारों पहले ही परीक्षा के मद्देनजर फ्री ट्रांसपोर्ट का व्यवस्था की है। कोलकाता में भी मेट्रो रेलवे 13 सितंबर को NEET उम्मीदवारों के लिए विशेष ट्रेन चलाने की योजना बना रहा है, ताकि उन्हें अपने परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने में मदद मिल सके। मेट्रो रेलवे के महाप्रबंधक मनोज जोशी के कहा कि, “योजना के मुताबिक, अभिभावकों के साथ कैंडिडेट्स को अपने एडमिट कार्ड दिखाने होंगे।”

एग्जाम हॉल में ऐसा होगा इंतेजाम

  • परीक्षा केंद्र की दीवारों, टेबल-कुर्सी, कंप्यूटर, पंखों आदि को परीक्षा शुरू होने से पहले भी सैनिटाइज किया जाएगा।
  • कॉरिडोर में रूम नंबर बड़े अक्षरों में लिखे होंगे, ताकि कैंडिडेट्स को ढूंढने में परेशानी न हो।
  • परीक्षा के दौरान पहली बार लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया जाएगा, जिससे कैंडिटेट्स को दूर से ही जानकारियां दी जा सकें।
  • परीक्षा केंद्र में ब्लूटूथ, वाई-फाई की जांच होगी, जिसके बाद एनटीए जैमर का प्रयोग करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments