34.3 C
Dehradun
Wednesday, April 21, 2021
Homeदेशभारत में सरकारी आंकड़ों के मुताबिक मार्च 2021 में भारत में बेरोजगारी...

भारत में सरकारी आंकड़ों के मुताबिक मार्च 2021 में भारत में बेरोजगारी दर 6.5 फीसदी पहुंची, कोरोना संक्रमण बना बड़ी वजह

- Advertisement -
- Advertisement -

2020 में कोरोना संक्रमण ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया था। जिसमें बहुत से लोगों को अपनी जान तक गंवानी पड़ी। अपना रोजगार खोना पड़ा। गरीबी की मार खानी पड़ी। वही पढ़े लिखे और नौकरी कर रहे युवाओं का रोजगार छीन गया। कोरोना काल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी पैदा हुई। वही फिर से कोरोना महामारी के आने से यह खतरा बढ़ता जा रहा है। वही सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इस महीने यानि मार्च 2021 में भारत में बेरोजगारी दर 6.5 फीसदी है। शहरी इलाकों में बेरोजगारी की दर 7.1 फीसदी तो ग्रामीण इलाकों में 6.2 फीसदी है। यानि शहरों में बेरोजगारी की समस्या ज्यादा है। देश भले ही कोरोना से अनलॉक हो गया हो, लेकिन युवाओं के लिए रोजगार के मौके कोरोना के आते ही बंद हो गए। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, लॉक डाउन के पहले तीन महीनों (अप्रैल से जून 2020) के दौरान देश में शहरी बेरोज़गारी दर 20.9 फ़ीसदी तक पहुंच गई थी। जबकि ये दर उसके पहले तीन महीनों (जनवरी-मार्च 2020) के दौरान 9.1 फ़ीसदी और (अप्रैल-जून 2019) के दौरान 8.9 फ़ीसदी थी। अप्रैल-जून 2020 के दौरान 15-29 साल के बीच के लोगों में तो बेरोज़गारी दर 34 फ़ीसदी तक पहुंच गई। जो कि देश के लिए एक बड़ी समस्या है। जिसके लिए सरकार को जल्द ही बड़े कदम उठाने होंगे और इसका समाधान निकालना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments