34.3 C
Dehradun
Sunday, January 24, 2021
Home उत्तराखंड उत्तराखंड में शर्मनाक घटना पिता ने ही किया गर्भवती बेटी का...

उत्तराखंड में शर्मनाक घटना पिता ने ही किया गर्भवती बेटी का कत्ल, दफनाए गए शव को निकाला, तब सामने आया सच

- Advertisement -
- Advertisement -

बागेश्वर के कांडा क्षेत्र में पिता ने अपने गर्भवती बेटी का कत्ल किया । काडा गांव में इस गर्भवती महिला को खुदकुशी का मामला बताकर उसे दफनाया गया था । खुदकुशी का मामला हत्या के रूप में तब सामने आया जब इस महिला के दफनाए गए शव का पोस्टमार्टम किया गया है । पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल के बाद कहा पोस्टमार्टम रिपोर्ट में किशोरी के पेट में 16 हफ्तों का गर्भ था ।

एसएसपी रचिता जुयाल के दिशा निर्देशों पर सीओ कपकोट संगीता और थाना अध्यक्ष प्रहलाद सिंह ने 9 जुलाई को अपनी टीम के साथ घटनास्थल पहुंचकर डीएम के निर्देशों के अनुसार दफनाए हुए शव को बाहर निकाला और तत्काल ही उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया ।

पुलिस की जांच पड़ताल के बाद गर्भवती किशोरी के पिता से पूछताछ की जिन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया । इसके साथ ही पुलिस ने गर्भ की जांच के लिए डीएनए सैंपल भी लिए है ताकि यह सुनिश्चित हो जाए कि मृत किशोरी को गर्भवती किसने किया था ।

यह मामला 9 जुलाई को कांडा थाने में खुदकुशी और दुष्कर्म का हवाला देकर किशोरी की मां ने मुकदमा दर्ज कराया था । जिसके अनुसार पुलिस ने थाना कांड में आईपीसी की धारा 336 और 306 तथा 5 एल , सिक्स पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया गया था । इस मामले को पुलिस ने हत्या की धारा 302 और सबूतों को पुलिस से छुपाने और गलत जानकारी देने देने के कारण इस मुकदमे में 201 की धारा बढ़ा दी गई है ।

पुलिस टीम ने आरोपी किशोरी के पिता को शनिवार को ही बागेश्वर रोड के गंगनाथ मंदिर के समीप गिरफ्तार कर लिया था । पुलिस की पूछताछ में आरोपी पिता ने बताया कि उसकी बेटी अपने दादा दादी के साथ मधुली गांव में रहती थी । और बेटी के गर्भ की जानकारी 7 जुलाई को पता चली । बेटी के गर्भवती होने के कारण परिजनों में आपस में काफी कहासुनी होने के बाद आरोपी के पिता अपने घर जेठाई चले गए । इसी बीच आरोपी के पिता रात को मतौली आकर अपनी बेटी के कमरे में बिना बताए घुसकर उसका गला गुड कार उसकी हत्या कर दी । इसके बाद सुबह मतौली पहुंचकर गांव वालों को यह कहने लगे कि समाज और लोग क्या कहेंगे के डर से उसकी बेटी ने खुदकुशी कर ली है । उसके पिता की इस झूठी कहानी पर गांव वालों ने विश्वास करके उसकी बेटी के शव को श्मशान घाट पर दफना दिया गया ।

इस मामले का पता चलते ही बागेश्वर की एसपी रचिता जुयाल ने इस मामले पर गहन जांच-पड़ताल शुरू कर दी और श्मशान घाट से दफनाए हुए शव को निकालने के दिशा निर्देश दे दिए ।
इस मामले पर एसपी रचिता जुयाल का कहना है की किशोरी के साथ हुए दुष्कर्म की जांच जारी है और किशोर जी को गर्भवती करने वाले का पता लगाने के लिए कुछ लोगों के डीएनए सैंपल भी लिए गए हैं जिससे यह पता चल जाएगा कि किशोरी को किसने गर्भवती किया था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments