34.3 C
Dehradun
Wednesday, April 21, 2021
Homeउत्तराखंडस्वास्थ्य सेवाओं की अव्यवस्थाओं ने ली महिला की जान, अधिक रक्तस्त्राव से...

स्वास्थ्य सेवाओं की अव्यवस्थाओं ने ली महिला की जान, अधिक रक्तस्त्राव से तड़प- तड़प कर हुई मौत

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तराखंड की स्वास्थ्य सेवाएं दिन- प्रतिदिन बेहाल होती जा रही है। जिसकी कीमत मरीजों को चुकानी पड़ रही है। आये दिन खबर आती है कि पहाड़ों की स्वास्थ्य सेवाएं खराब होती जा रही है। जिससे मरीजों को अपनी जान का खतरा बना रह रहा है। ऐसी एक और घटना हुई है जिसने स्वास्थ्य सेवाओं पर कई सवाल खड़े कर दिए है। सरकार भी बड़े- बड़े वादे कर रही है, लेकिन फिर भी अस्पतालों में खासी सुविधाएं उपलब्ध नहीं हुई है। रूद्रप्रयाग जिले से बेहद दुखद और दिल को झकझोर कर रख देने वाली खबर सामने आई है। जहां पर एक और बेटी अपनी जिंदगी की जंग प्रशासन की लापरवाही में हार गई। रुद्रप्रयाग जिला अस्पताल में नर्स के तौर पर कार्यरत एक गर्भवती महिला स्वास्थ्य प्रशासन की लापरवाही के कारण अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठी।

जाने क़्या है पूरा मामला:

रुद्रप्रयाग जिले के गुप्तकाशी क्षेत्र की निवासी 28 वर्षीय निधि रगडवाल पत्नी दीपक रगडवाल, महादेव मंदिर रुद्रप्रयाग जिला अस्पताल के आयुर्वेदिक पंचकर्म में नर्स के तौर पर कार्यरत थी। 28 वर्षीय निधि का पहले से ही एक बच्चा है और उसका दूसरा बच्चा होने वाला था। बीते शुक्रवार को निधि को प्रसव पीड़ा हुई जिसके बाद उसके परिजन उसको लेकर जिला अस्पताल पहुंचे जहां पर सुबह 11 बजे निधि को भर्ती किया गया और शाम को 4:15 पर निधि की डिलीवरी हुई और उसने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। जिससे परिवार वालों में खुशी का माहौल था, लेकिन ये खुशियाँ ज्यादा लंबी नहीं चली। बच्चे को जन्म देने के बाद निधि का रक्तस्त्राव बंद नहीं हुआ। 2 घंटे तक डॉक्टर संसाधनों की कमी में निधि को बचाने का व्यर्थ प्रयास करते रहे और 2 घंटे तक निधि जीवन और मौत के बीच झूलती रही मगर उसका रक्तस्राव बंद नहीं हुआ। इसके बाद डॉक्टरों ने निधि को हायर सेंटर रेफर कर दिया। बेस अस्पताल पहुंचने के बीच दर्द से तड़पती हुई निधि की मृत्यु हो गई। जिससे परिवार में कोहराम मच गया। जिससे स्वास्थ्य सेवाओं पर बहुत से सवाल खड़े कर दिए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments